Mark-Zuckerberg

Mark Zuckerberg Inspirational Quotes To Motivate You



मेरे सभी दोस्त जिनके छोटे भाई-बहन हैं जो कॉलेज या हाई स्कूल जा रहे हैं – मेरी सबसे ज़रूरी सलाह है – आपको प्रोग्राम कैसे करते हैं; सीखना चाहिए।
मैंने साईट तब शुरू की जब मैं 19 का था। तब मैं बिजनेस के बारे में बहुत नहीं जानता था।
 आपके घर के सामने मर रही गिलहरी अफ्रीका में मर रहे लोगों की तुलना में आपके दिलचस्पी के लिए अधिक प्रासंगिक हो सकती है।
 उस चीज को खोजिये जिसे लेकर आप सुपर पैशनेट हों।
 एक अरब लोगों को कनेक्ट करने में मदद करना बहुत ही अद्भुत व सुखद है और मेरे अब तक के जीवन की वो चीज है जिस पर मुझे सबसे अधिक गर्व है।
 एक मिशन का निर्माण करना और एक बिजनेस का निर्माण करना साथ-साथ चलता है।
 कुछ लोग बहुत अच्छे मैनेजर्स होते हैं, जो बड़ी ऑर्गनाइजेशंस को मैनेज कर सकते हैं, और कुछ लोग बड़े एनालिटिकल या स्ट्रेटेजी पर फोकस करने वाले होते हैं। आमतौर पर एक ही व्यक्ति में ये दोनों चीजें नहीं मिलतीं। मैं अपने आपको ज्यादातर बाद वाले कैम्प में रखूँगा।
 चालीस लाख से अधिक बिजनेसेज के फेसबुक पर पेज हैं जिसे वे अपने कस्टमर्स से बातचीत करने के लिए प्रयोग करते हैं।
 जब आप सभी को एक आवाज़ और शक्ति दे देते हैं, तो आमतौर पर सिस्टम बहुत अच्छा बन जाता है। इसलिए, हम अपनी जो भूमिका देखते हैं, वो है लोगों को उस शक्ति को देना।
 जब मैं हार्वर्ड में था तो मैंने कुछ और चीजें बनायीं थीं जो एक तरह से फेसबुक के छोटे वर्जन्स थे।
 तेजी से बढ़ो और चीजों को तोड़ो। जब तक कि आप चीजों को तोड़ नहीं रहे, आप उतनी तेजी से नहीं बढ़ रहे हैं.
 प्रश्न ये नही है कि, ‘ हम लोगों के बारे में क्या जानना चाहते हैं?’, प्रश्न ये है कि, ‘ लोग अपने बारे में क्या बताना चाहते हैं?’
 फेसबुक की सच्ची कहानी बस इतनी सी है कि हमने पूरे समय बड़ी मेहनत से काम किया है। मेरा मतलब, जो रियल स्टोरी है वो शायद बहुत बोरिंग है , नहीं ? मेरा मतलब, हम छह साल तक अपने कंप्यूटर पर बैठ कर बस कोडिंग करते रहे।
 फेसबुक में जो बात सचमुच लोगों मोटीवेट करती है वो है ऐसी चीजें बनाना जिसपे उन्हें गर्व हो।
 फेसबुक वास्तव में कम्यूनिकेट करने और कहानियां बताने के बारे में है… हमे लगता है कि लोग सचमुच अंग दान के बारे में जागरूकता फैलाने में मदद कर सकते हैं और अपने दोस्तों से इसमें हिस्सा लेने की चाहत के बारे में बता सकते हैं। और ये जो संकट है उसके समाधान का एक बड़ा हिस्सा हो सकता है।
 फेसबुक स्वाभाविक तौर पर वायरल है।
 बिजनेस का एक आसान सा नियम है, अगर आप उन चीजों को पहले करते हैं जो सरल हैं, तो आप वास्तव में बहुत अधिक प्रगति कर सकते हैं।
 बेहतर होगा कि आप कोशिश करें और नाकामयाब हो जाएं और उससे कुछ सीखें बजाये इसके की आप कुछ करें ही नहीं।
 मुझे मेरा पहला कंप्यूटर छठी क्लास के आस-पास मिला। जैसे ही ये मुझे मिला, मेरी दिलचस्पी ये जानने में हो गयी कि ये काम कैसे करता है और प्रोग्राम्स कैसे काम करते हैं और ये पता करना कि सिस्टम के अंदर गहराई में जाकर प्रोग्राम लिखे कैसे जाते हैं।
 मुझे लगता है बतौर कम्पनी, यदि आप ये दो चीजें सही कर लें — आप क्या करना चाहते हैं इसका क्लियर डायरेक्शन दे सकें और इसे करने के लिए अच्छे से अच्छे लोगों को ला सकें — तब आप काफी अच्छा कर सकते हैं।
 मुझे लगता है लोगों में खुद को व्यक्त करने की आन्तरिक इच्छा होती है कि वे कौन हैं। और मेरा मानना है कि ये हमेशा से अस्तित्व में थी।
 मेरा लक्ष्य कभी भी बस एक कम्पनी बनाने का नही था। कई लोग इसका गलत अर्थ लगाते हैं, मानो मुझे राजस्व या लाभ या ऐसी चीजों की कोई चिंता नहीं है। बल्कि बस एक कम्पनी ना होने से मेरा मतलब था बस एक कम्पनी नहीं खड़ी करना – कुछ ऐसा बनाना जो सचमुच दुनिया में एक बड़ा बदलाव लाये।
 मैं गूगल की ओर देखता हूँ और सोचता हूँ कि उनका एक मजबूत एकेडेमिक कल्चर है। जटिल समस्याओं का सुन्दर समाधान।
 मैं यहाँ कुछ लॉन्ग-टर्म के लिए निर्मित करने आया हूँ।बाकि कुछ भी डिस्ट्रैक्शन है।
 मैं सबकुछ अपने फ़ोन पे करता हूँ जैसा कि बहुत से लोग करते हैं।
 मैंने सचमुच अपने छात्रावास के कमरे में फेसबुक कोड किया और वही से इसे लॉन्च किया। मैंने प्रति माह 85 $ पर एक सर्वर किराये पे लिया, और साइड में एक ऐड लगा कर उसे फण्ड किया, और तब से हम साइड में ऐड लगा कर ही इसे फण्ड कर रहे हैं।
 यूजर्स और जो लोग हमारी सेवाएँ प्रयोग करते हैं उनसे हमारा कमिटमेंट है कि फेसबुक एक फ्री सेवा है। ये अभी फ्री है। ये हमेशा फ्री रहेगी। हम विज्ञापनों और ऐसी ही चीजों से पैसे बनाते हैं।
 लोग इसकी परवाह नहीं करते कि आप क्या कहते हैं, वे इसकी परवाह करते हैं कि आप क्या बनाते हैं।
 लोग सोचते हैं इनोवेशन बस एक अच्छा आईडिया होने के बारे में है लेकिन ये बहुत कुछ जल्दी आगे बढ़ने और कई चीजें ट्राई करने के बारे में है।
 लोगों को शेयर करने की पॉवर देकर हम दुनिया को और अधिक पारदर्शी बना रहे हैं।
 विज्ञापन सबसे प्रभावी ढंग से तब काम करते हैं जब वो उसी चीज से सम्बंधित हों जिसे लोग पहले से ही करने का प्रयास कर रहे हैं।
 वो लोग मेरे फ्रेंड हैं जो कूल स्टफ बनाना पसंद करते हैं। हम हमेशा ऐसे लोगों के बारे में मजाक करते हैं जो बिना कुछ वैल्युएबल बनाए बस कम्पनियाँ बनाना चाहते हैं। सिलिकॉन वैली में ऐसे बहुत से हैं।
 वो सवाल जो मैं लगभग हर दिन खुद से पूछता हूँ, ” क्या मैं वो सबसे ज़रूरी काम कर रहा हूँ जो मैं कर सकता हूँ ?”
 शुरू में फेसबुक को एक कम्पनी के तौर पर नहीं बनाया गया था। इसे एक सोशल मिशन पूरा करने के लिए बनाया गया था – दुनिया को और अधिक ओपन और कनेक्टेड बनाना।
 सबसे बड़ा रिस्क कोई रिस्क ना लेना है …इस दुनिया में जो सचमुच इतनी तेजी से बदल रही है , केवल एक रणनीति जिसका फेल होना तय है वो है रिस्क ना लेना।
 सीधे शब्दों में कहें हम पैसे बनाने के लिए सेवाओं का निर्माण नहीं करते; हम पैसे बनाते हैं ताकि बेहतर सेवाओं का निर्माण कर सकें।
 हम ऐसे लोगों को खोजते हैं जो किसी चीज को लेकर पैशनेट हों। एक तरह से, ये लगभग मायने नहीं रखता कि आप किस चीज को लेकर पैशनेट हैं।
 हम और अधिक लोगों की सेवा करने के लिए कंपनी चला रहे हैं।
 हम फेसबुक को सबसे अच्छी जगहों में से एक बनाना चाहते हैं जहाँ लोग ये सीखने के लिए जा सकें कि चीजें बनती कैसे हैं।
 हम फेसबुक पे जो चीज करना चाह रहे हैं वो बस इतना ही कि लोग एक दुसरे से और अधिक कुशलता से कनेक्ट हों और कम्यूनिकेट करें।

Thoughts to Inspire Success in Your Life and Business

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here