Sad status, Messages, Quotes, Lines For Whatsapp

Sad status, Messages, Quotes, Lines For Whatsapp

Sad Status In Hindi

दिल ही दिल में कुछ छुपाती है वो, यादों में आ कर चैन चुराती है वो,ख्वाबों में एक ऐहसास जगा रखा है, बन्द आँखों में अश्क बन के तडपाती है वो..
मेरी चाहत देखनी है तो मेरे दिल पर अपना दिल रखकर देख, तेरी धडकने न बड़ जाये तो मेरी महोब्बत ठुकरा देना…
सच्ची मोहबत तो अक्सर दिलतोड़ने वालीसेही होती हैं!
अबके सावन में हुई ये कैसी बरसात…… बादल बरसे दो घड़ी और नैना सारी रात 😢 😭
कहाँ ढूँढोगे तुम मुझ जैसा कोई जो तुम्हारे ज़ुल्म भी सहे और तुमसे प्यार भी करे 😟💔😢
जिस कदर तुमने भुला रखा है कभी सोचना, हम सब छोड़कर निकले थे एक तेरी मोहब्बत के लिये..
न जाने कैसे आग लग गई बहते हुये पानी में..हमने तो बस कुछ ख़त बहाये थे, “उसके नाम के“…
मेरे लफ़्ज़ों में ज़िंदा रहने वाली, मैं तेरी ख़ामोशियों से मर रहा हूँ 😢😢
साथी तो मुझे अपने सुख के लिए चाहिए दुखों के लिए तो मैं अकेला काफी हूँ !!
आज फिर इस तनहा रात में इंतज़ार है उसका … जो कहा करता था….. तुमसे बात ना करू तो नींद नहीं आती 😢😢
कितने बेवफा होता है ये जुगनू भी … रौशनी दिखाकर अंधेरों की तरफ ले जाते हैं 💔 😢
टूट कर बिखर जाते हैं वो लोग मिटटी की दीवारों की तरह ….. जो खुद से भी ज्यादा किसी और से प्यार करते हैं 💔 😢
नाकाम मोहबत्त भी बड़े काम की होती है, दिल मिले ना मिले इलज़ाम जरुर मिल जाता है।।
मोहब्बत और मौत की पसंद तो देखिए …… एक को दिल चाहिए और दूसरे को धड़कन
हम करते रहे मोहब्बत की बातें और उनको मतलब की बातों से फुर्सत नहीं थी 😟😟
इश्क़ का सफर खत्म ही समझिए, उनके बातों से अब जुदाई की महक आने लगी है 😢💔💔 😢
कुछ दूर हमारे साथ चलो, हम दिल की कहानी कह देंगे, समझे ना जिसे तुम आखो से, वो बात जुबानी कह देंगे ।


तुझको मेरी न मुझको तेरी,खबर आएगी……ये ज़िन्दगी अब यूँही, दबे पाँव गुज़र जाएगी….😟💔
फर्क है तुम्हारी और मेरे दर्द में तुम्हारी आँखें रोती है और हमारा दिल 😢 💔 😢
युं तो गलत नही होते अंदाज चहेरों के..लेकिन लोग, वैसे भी नहीं होते जैसे नजर आते है..
हमें किसी से शिकायत नहीं अब, बस अपने आप से रूठे है हम 💔 💔
उन्हें नफरत हुयी सारे जहाँ से, अब नयी दुनिया लाये कहाँ से
कौन करता है यहाँ प्यार निभाने के लिये, दिल तो बस एक खिलौना है जमाने के लिये
तुम्हारे बिना ज़िन्दगी काट तो सकते हैं पर गुज़ार नहीं सकते 😢😢
बहुत कमज़ोर रिश्ते थे बहुत मजबूत लोगों से 💔😢😭
रुका हुआ है अज़ब धुप छाँव का मौसम, गुज़र रहा है कोई दिल से बादलों की तरह!
है दफ़न मुझमे कितनी रौनके मत पूछ ऐ दोस्त…..हर बार उजड़ के भी बस्ता रहा वो शहर हूँ मैं!!
उसे ऐसा तराशा की हीरा बना दिया, अब वो ही कहते है मुझे खरीद सके ऐसी तेरी औकात नहीं 😟💔
ख्वाब बोये थे और अकेलापन काटा है, इस मोहब्बत में यारो बहुत घाटा है
तेरी मोहब्बत को कभी खेल नहीं समझा, वरना खेल तो इतने खेले है मैंने कि कभी भी हारा नहीं 😟💔😢
बेवजह बिछड़ तो गए हो तुम बस इतना बता दो कि सकून मिला या नहीं।
वक़्त बहुत कुछ छीन लेता है मेरी तो सिर्फ मोहब्बत थी 😢😢😢
अखबार तो रोज़ आता है घर में, बस अपनों की ख़बर नहीं आती. ❤
एहसासों की नमी बेहद जरुरी है हर रिश्ते में, ,रेत भी सूखी हो तो हाथों से फिसल जाती है !!
छोङो ना यार, क्या रखा है सुनने और सुनाने मेँ, किसी ने कसर नहीँ छोङी दिल दुखाने मेँ..
दर्द सहने की कुछ यु आदत सी हो गई है…. की अब दर्द न मिले तो दर्द सा होता है
माना तुम लफ़्हज़ों के बादशाह हो पर हम भी ख़ामोशियों पर राज़ करते हैं 😢 😢
वो गुस्से में तेरा लब से मेरे सिगरेट हटा देना उसी दिलकश अदा की याद में अब कश लगाते हैं !!
अपनी ज़िन्दगी का किस्सा भी अजीब है, जो चाहा वो मिला पर उसका अपने होने का एहसास कभी ना हुआ

कभीभी अपनी ख़ुशी किसी और के हाथ में मत सपना!
जाता हुआ मौसम लौटकर आया है..काश वो भी कोशिश करके देखे…!!
दिल से खेलना तो हमे भी आता है… लेकिन जिस खैल मे खिलौना टुट जाए वो खेल हमे पसंद नही..
मेरी इच्छा उसको सिर्फ पाना नहीं, भगवान से दुआ है कि उसे कभी रुलाना नहीं 😢😢
सच कहूँ तो उसके बिना दिन रात गुज़र तो जाते हैं ….. पर गुजारे नहीं जाते 😭 💔 😢 😭 💔 😢
अजीब कशमकश है जान किसे दें। वो भी आ बैठे और मौत भी।
कभी कभी कितनी बातें होती हैं कहने को … जब कोई सुनने वाला नहीं होता है ।
जब से वो मशहूर हो गये हैं, हमसे कुछ दूर हो गये हैं…
‪दिल‬ को ‪छोड़‬ चेहरे की दीवानी‬ ‎हुई‬ ये ‪दुनिया‬, अब समझ‬ में ‪‎आया‬ ‎सेल्फ़ीवाले फोन‬ इतने ‪महँगे‬ क्यूँ ‪‎होते हैं‬
मुझे रुलाकर सोना तेरी आदत बन गयी है .. जिस सुबह मेरी आँख न खुली उस दिन तुझे तेरी अपनी ही नींद से नफरत हो जाएगी 😢😢
वो मेरी तन्हाइयों का हिसाब क्या देगी, जो खुद ही सवाल है वो जवाब क्या देगी..
अफ़सोस होता है उस पल जब अपनी पसंद कोई ओर चुरा लेता है.. ख्वाब हम देखते है.. और हक़ीक़त कोई और बना लेता है.
कमाल की मोहब्बत थी उसको हमसे यारों,अचानक ही शुरू हुई और बिन बतायें ही ख़त्म 😢😢
जान तो उस वक़्त निकलती है जब अपना प्यार किसी और का जिक्र अपनी बातों में करता रहे 💔💔
दिल ही उदास हे। बाकी सब कुछ ठीक है!
मेरी ख़ामोशी में सन्नाटा भी है शोर भी, तूने देखा ही नहीं, मेरी आँखों में कुछ और भी है 😢 😢
सच्चा प्यार सिर्फ वो लोग कर सकते हैं…जो किसी का प्यार पाने के लिए तरस चुके हो.
अबकी बार सुलह करले मुझसे ए दिल वादा करता हूँ की फिर नहीं दूँगा तुझे किसी ज़ालिम के हाथों में
कहते हैं बिना मेहनत के कुछ नहीं मिलता, पता नहीं इतने गम पाने के लिए मैंने कौन सी मेहनत की थी 💔 💔
ज़िन्दगी में ज़िन्दगी से हर चीज़ मिली…. मगर उनके बाद ज़िन्दगी न मिली॥

दो आँखो में…दो ही आँसू….एक तेरे लिए, एक तेरी खातिर..!!😢💔
मेरे मरने पर तो लाखो रोने वाले है, तलाश उसकी है जो मेरे रोने से मर जाए
साँसोका टूटजाना तो आमबात हैं, जहा अपने बदलजाये मोत तो तब आती हैं!
आँसू छिपा लिए हमने ये सोचकर क्यों किसी को उदास करना खुद उदास रहकर 😢 😢
काश तू मेरी मौत होती तो एक दिन मेरी ज़रूर होती।
जो अंदर से खतम हो चुका हो वही औरों को जीना सिखाता है 😟💔😢
ना उजाड़ ए ख़ुदा किसी के आशियाने को….बहुत वक़्त लगता है एक छोटा सा घर बनाने को…
मैं तुम पर अपनी जान भी ….लुटा दूँ……..तुम मुझ से …….मुझ जैसी मोहब्बत तो करो.. 😭 💔 😢
सुना था मोहब्बत मिलती है मोहब्बत के बदले,हमारी बारी आई तो, रिवाज ही बदल गया
आरज़ू होनी चाहिए किसी को याद करने की लम्हे तो अपने आप मिलते रहते है 😭 💔 😭
किसी ने यूँ ही पूछ लिया हमसे कि दर्द की कीमत क्या है;हमने हँसते हुए कहा, “पता नहीं… कुछ अपने मुफ्त में दे जाते हैं।
तकलीफ ये नही की किस्मत ने मुझे धोखा दिया, मेरा यकीन तुम पर था किस्मत पर नही..
पुछेगा अगर खुदा तो कहूँगी …. हाँ हूई थी मोहब्बत मगर जिसके साथ हूई वो उसके काबिल ना था
मोहब्बत भी हाथों में लगी मेहँदी की तरह होती है कितनी भी गहरी क्यों ना हो फीकी पड़ ही जाती है।
हमने तो एक ही शख्स पर चाहत ख़त्म कर दी .. अब मोहब्बत किसे कहते है मालूम नहीं..
उठाकर फूल को उसने बड़ी नजाकत से मसल दिया, इशारो इशारो में कह दिया की हम 💔 दिल का भी ये हाल करते है…..💔💔💔
कोई इल्जाम रह गया हो तो वो भी दे दो.. पहले भी हम बुरे थे, अब थोड़े और सही…!!
तुम ठहर नहीं सकते… जानती हूँ…. मगर.. मैं तो तुम्हारे साथ… चल सकती हूँ ना
बढ़ती गयी उनकी मनमर्जियाँ, फिर इक दिन ये हुआ की हम फिर से अजनबी बन गए
ये जो तुम्हारी याद है ना, बस एक यही मेरी जायदाद है ..
हर शाम को ढलता सूरज याद दिलाता है… आज और एक दिन हो गया उसे बेवफा हुए।

Sad Status For Whatsapp

Leave a Reply

%d bloggers like this: